State News

छेड़छाड़ का विरोध करने पर एसएचओ और सिपाहियों ने दो भाइयों को बेरहमी से पीटा

Desk

अपनी करतूतों के लिए बदनाम यूपी पुलिस का बेहरहम चेहरा एक बार फिर बुलंदशहर में देखने को मिला. मामला छतारी कस्बे का है, जहां दशहरे के मौके पर मेला देखने आये दो भाइयों को पुलिस ने बेरहमी से न केवल पीटा बल्कि झूठे केस में जेल भेजने की भी तैयारी में है. पुलिस ने मेले में रामकिशन यादव और शुभेन्दु यादव की पत्नियों से अभद्रता की. पुलिस के इस रवैये का विरोध करने पर थानेदार श्यामप्रताप पटेल और उनकी पुलिस टीम ने दोनों भाइयों को भीड़ से खींचकर सरेआम जमकर पीटा. सरेआम पिटाई से भी मन नहीं भरा तो दोनों भाइयों को थानेदार साहब थाने ले आये और उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 332 और 353 के तहत केस दर्ज कर दिया. अब दोनों भाइयों को पुलिस बुधवार को जेल भेजेगी. लेकिन पुलिस के इस फर्जीवाड़े के पीछे की कहानी यह वीडियो बयां कर रहा है. जिसमें पुलिस की बर्बरता साफ दिखाई देती है. पुलिस की दरिंदगी का शिकार रामकिशन यादव बीएसएफ का जवान है जबकि शुभेन्द्र यादव अलीगढ़ में अपर न्यायिक मजिस्ट्रेट तृतीय का स्टेनो है.

Report :- Desk
Posted Date :-
State News